युवा शक्ति के नाम

सपने तुमको बहकायेंगे, लेकिन सपनों में खोना मत। संकट आयेंगे जायेंगे, हर एक बात पर रोना मत।   यदि थोड़े झंझावातों से , पथ छोड़ोगे, डर जाओगे। घुटने टेके , बन गये भीरु तो बिना मौत मर जाओगे ।।  …

युवा शक्ति

है युवाशक्ति , है धीर वीर जब तक नभ पर , चंदा सविता । मत कामरता का वरण करो, आवाहन करती है कविता।।   चढ़ चलो श्रृंग के शिखरों पर, बढ़ चलो लिए कर में मशाल । कुछ बहु हो…

हमारे बारे में

हिंदी साहित्य की वाचक परंपरा कवि-सम्मलेन, जिसका उद्देश्य समाज का दर्पण होकर उसे उसके गुणों एवं अवगुणों से परिचित करवाते हुए एक उचित दिशा प्रदान करना है। कवि-सम्मलेन की ये परंपरा लम्बे समय से सामजिक चेतना का ये कार्य करती आ रही है। इसी परंपरा को सहेजने और संवारने का कार्य करने के उद्देश्य से हमने यह माध्यम तैयार किया है।

संपर्क करें

पता: Plot no.828, Sector 2B, Vasundhara
Ghaziabad ,Uttar Pradesh,
India - 201012

फ़ोन: 7027510760

ई-मेल: [email protected]

Skip to toolbar

Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/kavisammelanlive/public_html/wp-includes/functions.php on line 4755