मरते दम तक भी गाएंगे गाथा हिंदुस्तान की

मरते दम तक भी गाएंगे गाथा हिंदुस्तान की !!   उन्नत जहां ललाट किरीट का सागर चरण पखारे है ऊंचे – ऊंचे मंदिर –  मस्जिद, गिरजाघर गुरु द्वारे हैं सब धर्मों का  मान और   सम्मान जहां  थाती  है जहां  बेटियां …

हमारे बारे में

हिंदी साहित्य की वाचक परंपरा कवि-सम्मलेन, जिसका उद्देश्य समाज का दर्पण होकर उसे उसके गुणों एवं अवगुणों से परिचित करवाते हुए एक उचित दिशा प्रदान करना है। कवि-सम्मलेन की ये परंपरा लम्बे समय से सामजिक चेतना का ये कार्य करती आ रही है। इसी परंपरा को सहेजने और संवारने का कार्य करने के उद्देश्य से हमने यह माध्यम तैयार किया है।

संपर्क करें

पता: Plot no.828, Sector 2B, Vasundhara
Ghaziabad ,Uttar Pradesh,
India - 201012

फ़ोन: 7027510760

ई-मेल: [email protected]

Skip to toolbar

Notice: ob_end_flush(): failed to send buffer of zlib output compression (0) in /home/kavisammelanlive/public_html/wp-includes/functions.php on line 4755